Skip to main content

Tata ने कैसे बदल दिया भारत / how tata built india

Tata का भारत देश मे योगदान 

   tata ना सिर्फ देश की एक कंपनी है लेकिन इस ब्रांड को देश का बच्चा बच्चा जानता है. पुरे भारत मे शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसने अपनी पूरी जिंदगी माँ TATA का product इस्तेमाल ना किया हो. देश के नमक से लेकर देश की एयरलाइन तक स्टील से लेकर कार तक होटल से लाकर चाय तक tata सब कुछ बनाता है. अगर हम यह कहे की tata सिर्फ देश का नमक ही नहीं बल्कि पूरा देश चलता hai तो यह कोई गलत nahi होगा. tata अलग अलग कम्पनीज से बना ग्रुप है जो करोडो लोगो को रोजगार देता है.

Tata-motors




   tata के रतन tata अम्बानी और अडानी से बिलकुल अलग है.वह बिसनेसमैन नहीं बल्कि इंडस्ट्रीलिस्ट है. जिनके लिए पुरे देश मे इज्जत है और ऐसा नहीं है की सिर्फ उनके लिए लेकिन jrd tata के लिए भी देश के मन मे बहुत इज्जत है. क्योंकि दोस्तों tata ऐसे काम करता रहा है जिससे उन्हें आज यह मुकाम मिला है, तो चलिए आज जानते है tata की पूरी कहानी.

Tata की शुरुआत 

   दोस्तों tata की शुरुआत जमशेदजी tata ने की थी. उनका जन्म 1839 मे पारसी परिवार मे हुआ था. बात है 19 वी सदी की एक बार जमशेदजी tata मुंबई के एक होटल मे गए लेकिन उनके सावले रंग के चलते उन्हें होटल से बाहर जाने को कह दिया गया. कहा जाता है की उन्होंने उसी वक्त तय किया की वे भारतियों के लिए इससे भी बेहतर होटल बनाएँगे. और 1903 मे मुंबई के समुद्रटत पर होटल ताज पैलेस बनाया गया. यह मुंबई की पहली ऐसी ईमारत थी जिसमे बिजली थी, अमेरिकी पंखे लगे हुए थे और जर्मन लिफ्ट मौजूद थी.

   दोस्तों tata के पूर्वज पारसी पुजारी थे लेकिन जमशेदजी tata ने कपडे, चाय, ताम्बा, पीतल और अफीन के धंधे मे भी अपनी किस्मत आजमाई. क्योंकि तब अफीन का धंधा कानूनी तौर पर मान्य था.उन्होंने इस दौरान काफ़ी यात्रा की, और इन नई खोजो को लेकर वह काफ़ी ज्यादा उत्साहित रहते थे. ब्रिटेन की यात्रा के दौरान उन्हें कोटन का आईडिया मिला और साथमे यह एहसास भी हुआ की भारत अपने शाशक देश को इस मामले मे चुनौती दे सकता है. और फिर उन्होंने ही 1877 मे भारत की पहली कपड़ा मिल खोली थी

Tata की स्वदेशी सोच 

  जमशेदजी tata के पास भारत के लिए स्वादेशी सोच का सपना था. दोस्तों यही स्वादेशी यानि की अपने देश मे निर्मित चीज़ो के प्रति आग्रह यही उनका उदेश्य था. दोस्तों जिस सोच को हम बढ़ावा देकर मेक इन इंडिया कह रहे है उनकी नीव tata ने ही रखी थी. उन्होंने एक बार कहा था कोई भी देश और समाज अपने अशिक्षित लोगो की वजहसे आगे नहीं बढ़ता, जितना वह अपने बेहतरीनऔर प्रतिभाशाली लोगो को आगे बढ़ाने se बनता है.

एशिया का पहला Tata स्टील प्लांट 

   उनका सबसे बड़ा सपना स्टील प्लांट बनाने का था, लेकिन इसके पूरा होने से पहले ही उनका निधनहो गया. जिसके बाद उनके बेटे दौराब्जी tata ने इसको संभाला aur tata स्टील की स्थापना की. जो एशिया की पहली स्टील निर्माता कंपनी बनी. दोस्तों जमशेदजी tata ने एक औद्योगिक शहर बनाने के भी निर्देश दिए थे. उन्होंने दौराब को लिखें एक लेटर मे कहा था, की जमशेदपुर शहर की सड़के लम्बी होनी चाहिए. और उसके दोनों तरफ छायदार पेड़ लगाए जाए. बगिचो ke लिए पर्याप्त जगह होनी चाहिए. फूटबोल होकि के मैदान के आलावा पार्किंग के लिए भी जगह होनी चाहिए.

   दोस्तों दुनिया के कई देशो मे कर्मचारियों के लिए योजनाएँ ना के बराबर होती थी तभी tata ने श्रमिकों के लिए कल्याणकारी योजनाएँ शुरी की.1877 मे पेंशन की व्यवस्था, 1912 मे प्रतिदिन 8 घंटे की शिफ्ट , 1921 से कई और सुविधा शुरू कर दी गई थी. खुद नहीं देश पहले इसलिए उन्होंने बंगलोरे मे इंस्टिट्यूट of साइंस ki स्थापना की ताकि देश के विकास मे योगदान देने के लिए इंजीनियर और वैज्ञानिक तैयार हो सके.

   जमशेदजी tata और उनके बेटों ने ज्यादा हिस्सा ट्रस्ट के नाम सोप दिया. उनके परिवार के पास अभी सिर्फ 3% ही share है बाकि अन्य कम्पनीज और share धारको के पास मौजूद है. कई एक्सपर्टस का यह मानना है की इससे ट्रस्ट की विश्वायनीषता बढ़ती है. हर कोई यह जानता है की कंपनी kे ज्यादा शेयर ट्रस्ट के पास मौजूद है. नाकि अपना फायदा चाहने वाले व्यक्तिओं के पास. तो यह है tata भारत की शान.

Ipl के मालिक पैसे कैसे कमाते है 

Comments

Popular posts from this blog

game of thrones season 1 review

game of thrones season 1 episode 2 review hindi me  2- the kingsroad     तो फिर। चोकर ने पाया है कि लैनिस्टर इसे परिवार में रखना पसंद करते हैं, और उनकी परेशानियों के लिए एक टावर के ऊपर से फेंक दिया गया है। नेड स्टार्क ने किंग्स हैंड की स्थिति स्वीकार कर ली है, और डेनरीज़ अपने नए पति द्वारा मोटे तौर पर पीछे से लिए जाने से थक गई है। Westeros की भूमि में आपका स्वागत है! game of thrones  का दूसरा एपिसोड पहले की घटनाओं के कुछ दिनों बाद शुरू होता है, जिससे निर्माता कहानी को आगे बढ़ाते रहते हैं, जबकि कुछ हिस्सों को छोड़ देते हैं जिन्हें दर्शकों की धारणा और बुद्धिमत्ता पर छोड़ दिया जा सकता है।उदाहरण के लिए, जॉन ने अब 'द ब्लैक ले लिया', और नाइट्स वॉच का सदस्य बनने के लिए साइन अप किया है। तब नेड और उनकी दो बेटियां किंग्स लैंडिंग के लिए विंटरफेल छोड़ने की तैयारी कर रही हैं, जबकि ब्रान कम से कम एक सप्ताह के लिए कोमा में रहा है, जिससे टायरियन को अपने अभिमानी भतीजे, जोफ्रे (यदि वह परिचित दिखता है, तो वह यादृच्छिक गोरा बच्चा था) को शारीरिक रूप से दंडित करने की इजाजत देता है। बैटमैन बिगिन्स म

How free games earn money

 Gaming companies paise kaise kamati hai   दोस्तों दुनिया की टोटल पापुलेशन करीब 750 करोड़ है. इसमें से 200 करोड़ लोग गेम खेलते हैं. जिसकी वजह से 2017 मे वीडियो game इंडस्ट्री ने करीब 7 लाख करोड़ का रेवेन्यू जैनरेट किया था.जो को बहुत ज्यादा है अगर हम इसे कपड़े करें बॉलीवुड और हॉलीवुड की इनकम से तो इन 7 लाख करोड़ के रेवेन्यूयु मे से 3 लाख करोड़ का रेवेन्यू सिर्फ मोबाइल गेमिंग का है.यह गेमिंग इंसडस्ट्री का 45% है. जो की tencent जैसी कंपनी की वजह से पॉसिबल हो पाया है.कुछ गेम्स है जैसे मैंक्राफ्ट जिसे खेलने के लिए हमें पेय करना पड़ता है.    बट गेम्स जैसे pubg और class of clans इनको हम मोबाइल पर फ्री मे खेल सकते है. फिर भी यह गेम्स पैसे कमाने वाली गेम्स मे सबसे ऊपर आती है. तो आप सब को यह लग रहा होगा की यह कैसे? तो दोस्तों आज की इस पोस्ट मे हम बात करने वाले है video gamhai इंडस्ट्री के buisness model कर बारे मे या तो how free games earn money के बारे मे.    गेमिंग इंडस्ट्री के बेसिक स्ट्रक्चर के बारे मे बात करें तो यह बिलकुल एक चैन की तरह ही होती है.जिसमे आते है developers, publishers और distr

Ipl ke malik paise kaise kamate hai

 Ipl ke malik paise kaise kamate hai  दोस्तों लोगो मे  ipl  का इतना क्रेज़ है की जब  ipl  चलता है तो बड़ी बड़ी मूवीज़ की रिलीज़ डेट पोस्टपोन कर दी जाती है.क्योंकि जब एंटरटेनमेंट की बात आती है तो.  Ipl  सबसे ऊपर आता है. तो दोस्तों आइये आज की इस पोस्ट मे हम जानते है की  ipl ke malik paise kaise kamate hai. ipl  हर साल अप्रैल और मई में खेला जाता है.जिसमे हर एक टीम इंडिया में किसी स्टेट या सिटी को रिप्रेजेंट करती है.टीम की फ्रेंचाइजी यानिकि ओनर्स हर साल करोडो रूपया खर्च करते है.हर एक प्लेयर्स को खरीदने के लिए और उसकी ट्रेनिंग के लिए जिससे वह बेहतर प्रदर्शन कर सके.और उसकी टीम के लिए  ipl  ट्रॉफी जित सके.लेकिन दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है की  ipl में जितने वाली टीम को सिर्फ 15 करोड़ रुपये ही मिलते है तो वह इतनी साडी कॉस्ट कहा से कवर कर पाते है?  आज हम इसी इंटरेस्टिंग टॉपिक के बारे में बात करनेवाले है की कौन से सोर्सेस है जिससे  ipl ke mailik paise kamate ha i .और आप इसको शार्ट में  ipl ka buisness model  कह सकते है.  ipl kahan se paise kamati hai  ipl ki income ke saurce kya hai     दोस्तों  ipl